मुख्यमंत्री बनने के तीन घंटों के भीतर कमलनाथ ने किसानों का कर्ज किया माफ

विधानसभा चुनावों के प्रचार के दौरान कांग्रेस ने किसानों के कर्ज को माफ करने का वादा किया। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि सरकार बनाने के 10 दिनों के भीतर कर्ज माफ कर दिया था।

Daily News Online
Updated: December 17, 2018, 03:47 PM IST

जैसे ही कमलनाथ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री बने उन्होंने अपने चुनाव वादे को लागू किया। उन्‍होंने सीएम की कुर्सी पर बैठते ही किसानों के लिए ऋण माफी की फाइल पर हस्ताक्षर किए। इस कदम के तहत किसानों को दो लाख रुपये का कर्ज दिया जाएगा। इससे 40 लाख किसानों को फायदा होगा। ऋण छूट के मौजूदा और डिफॉल्टर किसानों को भी लाभ होगा। सहकारी के अलावा राष्ट्रीय बैंकों पर भी इस बारे में चर्चा की गई है।
CMबननेके3घंटेकेअंदरही
CM बनने के 3 घंटे के अंदर ही
ऋण छूट की फाइल पर हस्ताक्षर करने के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा, “मैंने अपना वादा पूरा कर लिया है।” यह अनुमान लगाया जाता है कि वे जल्द ही बेरोजगारों को महंगाई भत्ता देने की घोषणा कर सकते हैं। इसके लिए एक ड्राफ्ट तैयार हो चुका है।
यह भी पढ़ें:-विनोद खन्ना की पहली पत्नी गीतांजली की मौत




कमलनाथ पहली बार मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री बने हैं। उन्हें छिंदवाड़ा से सांसद नौ बार चुने गए हैं। कमल नाथ गुरुवार को मुख्यमंत्री विधायकों द्वारा मुख्यमंत्री पद के लिए चुने गए थे।
यह भी पढ़ें:-कमल नाथ ने भोपाल में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली जो दिल्ली में दंगों के दाग पर हंगामा
समझाएं कि कांग्रेस ने विधानसभा चुनावों के प्रचार के दौरान किसानों के कर्ज को माफ करने का वादा किया था। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि सरकार बनाने के 10 दिनों के भीतर, कर्ज माफ कर दिया गया था। कमलनाथ ने यह भी कहा था कि सरकार बनाने का पहला कदम कर्ज छूट के लिए उठाया जाएगा। उन्होंने कहा कि हमारी प्राथमिकता कृषि क्षेत्र को मजबूत करना है ताकि कृषि आधारित मध्य प्रदेश की अर्थव्यवस्था में वृद्धि हो सके।
यह भी पढ़ें:-मुख्यमंत्रियों के शपथ समारोह में शामिल नहीं होंगे- अखिलेश-मायावती




समझाएं कि कांग्रेस ने अपने ‘वास्त पत्र’ में भी कहा है कि किसानों के ऋण को सरकार बनाने के 11 दिनों में माफ कर दिया जाएगा। मध्यप्रदेश में किसानों का ऋण छूट एक बड़ा मुद्दा है। चुनाव से पहले कांग्रेस ने कर्ज छूट का वादा करके भाजपा को ऋण छूट का समर्थन किया था। खबरों के मुताबिक कांग्रेस के वादे के बाद राज्य के किसानों ने ऋण वित्तपोषण बंद कर दिया था।

यह भी पढ़ें:-तीन राज्यों में कांग्रेस के सीएम शपथ लेंगे, समारोह से दूरी बनाए रखने वाले नेताओं पर रहेगी नजर

Click News Daily

we at Click News Daily, provide lates & updated news just a click away, our news portal also covers bollywood sports & latest jokes. so be updated with clicknewsdaily.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *